राजस्थान की भाजपा सरकार की शर्मनाक हरकत, परीक्षा में नक़ल रोकने के लिए लड़कियों के कपडे उतरवाए और काटे, 10 घंटे इंटरनेट बंद।

राजस्थान में पुलिस भर्ती के लिए परीक्षा का आयोजन किया जा रहा है. इस परीक्षा में नकलचियों से परेशान राजस्थान सरकार ने नकल रोकने के लिए पूरे प्रदेश की रफ्तार रोक दी है. हालांकि नकल रोकने के लिए कुछ ऐसे कदम भी उठाए जा रहे हैं, जो काफी शर्मनाक हैं, एक मां को अपनी बेटी के कपड़े चुनरी की आड़ में सेंटर के बाहर ही कपड़े बदलवाने पड़े. यही नजारा कमोबेश राज्य के हर परीक्षा केंद्रों पर रहे. और सरकार की लापरवाही का प्रतीक है. राज्यभर में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है. जिससे लोगों को भारी परेशानी हो रही है।

एकतरफ सरकार डिजिटल इंडिया की बात कर रही है, दूसरी तरफ राजस्थान में कांस्टेबल भर्ती जैसी पारंपरिक परीक्षा में नकल रोक पाने की नाकामी छिपाने के लिए पुलिस ने जनता के ऊपर ‘वेब कर्फ्यू’ थोप दिया। शनिवार को पहले ही दिन 10 घंटे इंटरनेट बंद रहने के कारण व्यापारियों को करोड़ों रुपये के लेन-देन का नुकसान हुआ, जबकि आम जनता को मोबाइल एप आधारित सेवाएं नहीं चलने के कारण धक्के सड़कों पर धक्के खाने पड़े।

परीक्षा सेंटर्स पर लड़कियों के कपड़े उतरवाए गए और कपड़े काट दिए गए, जिसका लोग विरोध कर रहे हैं. झुंझनु में जहां लड़कियों के कपड़े काटे गए वहीं लड़कों के कॉलर और आस्तीन वाले शर्ट और जूते भी निकलवाए गए. परीक्षा सेंटरों पर ऐसा लग रहा था मानो कोई जूते की दूकान है.इस घटना से लोगों में रोष है. परीक्षा सेंटर्स पर पुलिस ने जिस तरह से लड़कियों के कपड़े काटे वो किसी भी हालत में सही नहीं ठहराए जा सकते. दरअसल पिछले साल इस परीक्षा में जमकर नकल हुई थी, जिसमें 10 से अधिक एफआईआर और 30 से अधिक गिरफ्तारियां की गईं थीं।

बाद में परीक्षा को रद्द करना पड़ा था। पुलिस को इस बार भी वॉट्सएप के जरिए प्रश्न पत्र वायरल होने का संदेह था। इस कारण ‘न रहेगा बांस और न बजेगी बांसुरी’ के तहत दोनों दिन 10-10 घंटे नेट बंद करने का उपाय किया गया। इस परीक्षा में राजस्थान के 664 सेंटरों पर करीब 13142 पदों के लिए 15 लाख अभ्यर्थी दो पारियों में परीक्षा दे रहे हैं।

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password