उत्तराखंड में मिला गाय को राष्ट्रमाता का दर्जा, बना देश का पहला ऐसा राज्य

इन दिनों देश भर में गाय को लेकर खूब बातें हो रही हैं. एक तरफ जहाँ गौ रक्षा के नाम पर अशांति फैलाई जा रही है तो दूसरी तरफ अब सियासी पार्टियाँ गाय को भी अपने चुनावी एजेंडों में शामिल करने लगी हैं. कमोबेश यह रुख सभी पार्टियों का है. एक तरफ जहाँ गाय भाजपा के सियासी एजेंडे में शुरू से शामिल रही है.

लेकिन अब गौ रक्षा को कमोबेश हर पार्टियों से चुनाव में इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है. कांग्रेस भी इसमें पीछे नहीं है. दरअसल हाल में मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने वाला है. मध्य प्रदेश को भाजपा का गढ़ माना जाता है. ऐसे में काग्रेस पूरी कोशिश कर रही है मध्य प्रदेश की सत्ता अपने हाथों में लेने की. बहरहाल. इसके मद्देनज़र कांग्रेस की तरफ से ऐलान किया गया है कि अगर वह सत्ता में आती है तो हर पंचायत में एक एक गो शाला बनाएगी.

इस बीच अब भाजपा ने इसका काट निकाल दिया है. भाजपा एक कदम और आगे बढ़ गई है. दरअसल हाल ही में उत्तराखंड विधानसभा में गाय को लेकर एक प्रस्ताव पारित किया गया है, जिसमे गाय को राष्ट्रमाता का दर्जा दिया गया है. यह प्रस्ताव सर्व सहमती से पास कर दिया गया है. इसके साथ ही उत्तराखंड देश का ऐसा पहला राज्य बन गया है.

जिसने गाय का राष्ट माता का दर्जा दिया है. अब इस प्रस्ताव को केद्र की मोदी सरकार के पास भेजा जा रहा है. ज़ाहिर सी बात है कि उत्तरखंड में भाजपा की सरकार है और सरकार के इस कदम के कई सियासी पहलू नज़र आ रहे हैं. बता दें कि उत्तराखंड में यह प्रस्ताव राज्य मंत्री रेखा आर्या की तरफ से लाया गया था.

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password