लखनऊ मुठभेड़ ख़त्म, संदिग्ध आतंकी ढेर

_95006257_db140607-f160-405a-8cfd-6f1ff3aceee5

लखनऊ: शहर के ठाकुरगंज इलाके में छिपे एक कथित आतंकी के साथ लगभग 12 घंटे चला एनकाउंटर खत्म हो गया. बुधवार को सुबह तीन बजे तड़के ख़त्म हुए इस ऑपरेशन को एटीएस ने अंजाम दिया. एटीएस के आईजी असीम अरुण ने इस मुठभेड़ में आईएसआईएस (ISIS) के कथित आतंकी सैफुल्लाह के मारे जाने की पुष्टि की है.असीम अरुण ने कहा, ”यह ऑपरेशन तीन बजे ख़त्म हो गया. जवाबी फायरिंग में सैफुला नाम का व्यक्ति मारा गया है. एटीएस ने इस ऑपरेशन को अंजाम दिया. किसी भी सुरक्षाकर्मी को नुक़सान नहीं हुआ है. दोनों तरफ से फायरिंग हो रही थी और आख़िरकार वह मारा गया.”

शुरू में पुलिस को दो संदिग्धों के छिपे होने की आशंका थी लेकिन मुठभेड़ खत्म होने के बाद एक ही संदिग्ध का शव मिला. पुलिस और एटीएस के संयुक्त अभियान में मकान की छत को ड्रिल करके कैमरे से अंदर की गतिविधियों की जानकारी ली गई. पुलिस ने संदिग्ध को जिंदा पकड़ने के लिए मिर्ची बम का इस्तेमाल भी किया लेकिन अंतत: उसकी मौत हो गई.
_95006255_c0537a57-0202-4d59-af5e-9e09df2cf3ab

पुलिस को आईएसआईएस के इस संदिग्ध आतंकी सैफुल्लाह के पास से 8 पिस्तौल, 650 राउंड गोलियां, विस्फोटक, सोना, कैश, पासपोर्ट, सिम कार्ड्स और ट्रेनों के टाइम टेबल मिले हैं. उस शख्स के पास से आतंकी संगठन आईएसआईएस का झंडा भी मिला है. उसके पास 2000 रुपए के कुछ नए नोट भी थे. इसके अलावा उसके पास से टाइम टेबल लिखे हुए दो कागज भी बरामद हुए हैं. जिसमें उसकी पूरी दिनचर्या दर्ज है. पुलिस को उसके पास से बम बनाने का सामान भी बरामद हुआ है.thakutganj-encounter_650x400_71488957285

पुलिस सूत्रों के मुताबिक संदिग्ध चरमपंथी के तार मध्य प्रदेश में शाहजहाँपुर के पास मंगलवार सुबह भोपाल-उज्जैन पैसेंजर ट्रेन में हुए उस धमाके से जुड़े हैं जिसमें कम-से-कम आठ लोग घायल हो गए थे. इस हादसे के बाद सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने कई संदिग्धों की पहचान की थी. और दो संदिग्धों को कानपुर से और एक को इटावा से गिरफ्तार किया है. इनके अलावा तीन संदिग्ध आतंकियों को मध्य प्रदेश में गिरफ्तार किया गया है.

फोटो: बीबीसी

admin

Top Lingual Support by India Fascinates