पाकिस्तान का दावा , ISIS के 100 से ज़्यादा आतंकी ढेर

55055f1bb2235

इस्लामाबाद: शुक्रवार को पाकिस्तान के सिंध में लाल शाहबाज कलंदर सूफी की दरगाह पर आईएसआईएस के आत्मघाती हमलावर द्वारा किए गए धमाके के एक दिन बाद पाकिस्तानी सुरक्षा बलों की कार्रवाई में 100 से अधिक आतंकवादी मारे गए. गौरतलब है कि दरगाह पर हुए आत्मघाती हमले में 88 लोगों की मौत हो गई थी और करीब 250 लोग घायल हुए थे. घायल हुए कई लोगों की हालत नाजुक है और उन्हें कराची के अस्पताल में शिफ्ट क्या जा रहा है.

बहरहाल, पाकिस्तानी सुरक्षा बालों की कथित कार्रवाई में पाकिस्तानी सेना के मीडिया सेल आईएसपीआर के मुताबिक़ बीती रात से बड़ी संख्या में संदिग्ध गिरफ्तार किये गए हैं. प्रेस बयान में यह नहीं बताया गया है कि आतंकवादी कहां मारे गए और कहां से गिरफ्तार किए गए.
pakistan_f97fb90c-f484-11e6-bee8-7b74d3637aa8

इस बीच पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने लोगों को यक़ीन दिलाया है कि दुश्मनी के एजेंडा को सफल नहीं होने दिया जाएगा, चाहे इसके लिए कोई भी कीमत चुकानी पड़े. बता दें कि पाकिस्तान में पिछले एक हफ्ते के दौरान हुए कम से कम आठ आतंकवादी हमलों के बाद संघीय एवं प्रांतीय सरकारों ने एक साथ कार्रवाई शुरू की है.

सेना ने कहा कि सशस्त्र बल सभी आवश्यक संसाधनों की मदद से बचाव एवं राहत कार्य कर रहे हैं. पाकिस्तानी सेना एवं रेंजर्स ने इसमें मदद की. सिंध में शिया दरगाह पर हुए हमले की जिम्मेदारी आईएसआईएस ने ली है. दरगाह को सील कर दिया गया है. पुलिस ने प्रारंभिक सबूत एकत्र कर लिए हैं और सीसीटीवी फुटेज हासिल कर ली गई है.

उधर अमेरिका में पाकिस्तान के नवनियुक्त राजदूत एजाज चौधरी ने कहा है कि पाकिस्तान इस्लामिक स्टेट आतंकी समूह से खतरे का सामना कर रहा है तथा सीरियाई संघर्ष के खत्म होने की स्थिति करीब आने के साथ ही आईएस पाकिस्तानी सरजमीं का रुख कर सकता है.428495-isis

इसी सप्ताह राजदूत नियुक्त किए गए चौधरी ऐजाज़ ने कहा कि आतंकवाद अब अफगानिस्तान से पाकिस्तान में फैल रहा है और ये तत्व देश को अस्थिर करने की कोशिश में हैं और पाकिस्तान सुपर लीग (क्रिकेट लीग) जैसे बड़े आयोजनों को बाधित करना चाहते हैं. ‘एयर यूनिवर्सिटी इस्लामाबाद’ में आयोजित एक संगोष्ठी में चौधरी ने कहा कि पाकिस्तान को आईएस से खतरा है और सीरियाई संघर्ष के खत्म होने की स्थिति करीब आने के साथ ही यह आतंकी समूह पाकिस्तान का रुख कर सकता है. आपको बता दें कि पाकिस्तान में पिछले 12 सालों के दौरान हुए विभिन आतंकी हमलों में मारे गए बेगुनाहों की तादाद 28000 से ज्यादा बताई जाती है.

admin

Top Lingual Support by India Fascinates